Strange India All Strange Things About India and world


मुंबई29 मिनट पहले

यह फोटो मुंबई के भायखला इलाके का है। भारी बारिश के बीच दमकल विभाग की गाड़ी सड़क पर फंसी नजर आई। वहीं, विभाग के कर्मचारी लोगों की मदद करते दिखे।

  • मौसम विभाग ने गुरुवार के लिए भी रेड अलर्ट यानी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है
  • मुंबई में सायन, चेंबूर, कुर्ला, किंग सर्कल, अंधेरी ईस्ट, सांताक्रुज जैसे इलाकों में सड़कें डूबीं

लगातार दो दिन से जारी भारी बारिश के आगे मुंबई बेबस हो गई। बारिश के चलते मुंबई में हर जगह पानी भर गया है। सड़कें, घर, दफ्तर पानी में डूब गए हैं। मुंबई जाम हो गई है। बुधवार को भारी बारिश के साथ 107 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं। इससे कई जगह पेड़ भी उखड़ गए। सायन, चेंबूर, कुर्ला, किंग सर्कल, अंधेरी ईस्ट, सांताक्रुज जैसे तमाम इलाकों में सड़कें पानी में डूबी हुई हैं।

देर रात एनडीआरएफ की टीम ने मस्जिद से भायखला स्टेशन के बीच फंसे 55 लोगों को रेस्क्यू किया। दरअसल, ट्रैक पर पानी भर जाने के कारण लोकल ट्रेनें यहीं फंस गई थी। मौसम विभाग ने गुरुवार के लिए भी रेड अलर्ट यानी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इस बीच, पीएम मोदी ने सीएम उद्धव को हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।

मुंबई समेत कई इलाकों के लिए रेड अलर्ट जारी

मुंबई के अलावा पुणे, पालघर, ठाणे, मुंबई और कोंकण के लिए बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान (मंगलवार सुबह 8.30 बजे से बुधवार सुबह 8.30 बजे तक) आईएमडी कोलाबा और सांताक्रुज ने क्रमशः 53.2 मिमी और 84.2 मिमी बारिश दर्ज की है।

मुंबई के भायखला इलाके में यात्री बस सड़क पर जलभराव के दौरान फंस गई।

आदित्य ठाकरे ने भी लोगों से घरों में रहने को कहा
महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे ने लोगों से घरों में रहने की अपील करते हुए ट्विटर पर लिखा, “हमने सभी को घर में रहने के लिए आग्रह करते हैं, पुलिस और शहरी / ग्रामीण स्थानीय निकाय के कर्मचारी सड़कों पर हैं और तूफानी बारिश से जूझ रहे हैं। कृपया घर पर रहें।” बारिश के कारण मुंबई में वेस्टर्न एक्सप्रेस-वे पर लंबा ट्रैफिक जाम देखने को मिला।

पुणे में भारी बारिश से फुल हुए डैम
आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि पुणे शहर में 24 घंटों में 59 मिमी. बारिश हुई और अगले दो दिनों में भारी बारिश होने की आशंका है। चार बांधों वरसगांव, खडकवासला, पानशेत और टेमघर के डूब वाले इलाकों में अच्छी बारिश हुई। ये बांध शहर में पानी की सप्लाई करते हैं।

मुंबईवासियों का हाल बेहाल है। कोविड-19 के बीच

जेजे अस्पताल में भी जलभराव की स्थिति हो गई

मुंबई के जेजे अस्पताल में भी जलभराव की स्थिति हो गई है। इसे बीएमसी द्वारा कोविड-19 के इलाज वाले अस्पतालों में रखा गया है। अस्पताल स्टाफ के लोग बाल्टियों, वाइपर और अन्य उपकरणों की मदद से पानी निकालने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं, अस्पताल में मौजूद तीमारदार इस पूरे घटनाक्रम को कैमरे में कैद कर रहे हैं।

बुधवार को मुंबई में जारी भारी बारिश के बीच एक पेड़ टेक्सी के ऊपर गिर पड़ा। दमकल विभाग के कर्मचारी इस पेड़ को हटाने का प्रयास करते हुए।

दहिसर नदी ओवरफ्लो हुई

उत्तर-पश्चिमी उपनगरों में दहिसर नदी, 4 अगस्त और 5 अगस्त को मुंबई में लगातार बारिश के कारण, संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के कुछ हिस्सों में ओवरफ्लो हुई है। साथ ही इसके चलते क्षेत्र में सड़क डैमेज हो गई है।

पालघर में भी बारिश का कहर
पालघर जिले के नालासोपारा में भी बारिश की वजह से सड़कें तालाब में तब्दील हो चुकी हैं और लोगों के घरों में पानी भर गया। आलम यह है कि आसपास की नदियां भी ओवरफ्लो हो चुकी हैं और बारिश की वजह से खतरा बढ़ता जा रहा है। लोकल ट्रेन की आवाजाही अभी शुरू है।

दादर चौपाटी पर एक शख्स हाई टाइड के दौरान लहरों से जूझता हुआ।

राज्य में यहां हुई सबसे ज्यादा बारिश
मंगलवार को हुई भारी बारिश से मुंबई और ठाणे में घरों में पानी घुस गया था। पिछले 24 घंटों के दौरान दहानु तालुका में अब तक सबसे अधिक 465 मिमी बारिश हुई है, इसके बाद तलसारी में 423 मिमी बारिश हुई है।

भारी बारिश और तेज हवा के कारण मुंबई में कई हिस्सों में आज पेड़ भी गिरे हैं।

लोकल सेवा पर नहीं पड़ा प्रभाव
मुंबई के परेल, हिंदमाता, वडाला और चेंबूर में पानी भर गया है। चर्चगेट से डहाणु तक लोकल ट्रेनें चल रही हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से कसारा (ठाणे), खोपोली (रायगढ़), पनवेल (नवी मुंबई) और गोरेगांव तक उपनगरीय सेवाएं भारी बारिश के बावजूद भी चल रही हैं। बृहन्मुंबई विद्युत आपूर्ति एवं परिवहन (बेस्ट) की बस सेवाएं भी कुछ सड़कों पर जलभराव के कारण प्रभावित हुई हैं।

भारी बारिश के बीच एक डिलीवरी बॉय अपनी स्कूटी को घसीट कर ले जाता हुआ।

पिछले 24 घंटों में देश के इन हिस्सों में हुई भारी बारिश

बीते 24 घंटों के दौरान मुंबई समेत कोंकण, गोवा में भारी बारिश हुई। तटीय कर्नाटक, केरल, अंडमान निकोबार द्वीप समूह, दक्षिणी गुजरात और उत्तरी तटीय ओडिशा में भी कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई है।

मुंबई की सड़कें अब किसी तालाब की तरह नजर आ रही हैं। ऐसी ही एक सड़क पर खेलते हुए बच्चे।

0





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *