Strange India All Strange Things About India and world


  • Hindi News
  • International
  • Explosion In Beirut Of Lebanon Ammonium Nitrate Exploded Trump And US Offer Help News And Updates

बेरूत2 घंटे पहले

फोटो बेरूत में हुए धमाके के बाद की है। 78 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है। 4 हजार से ज्यादा घायल हैं। अमेरिका ने इसे हादसा नहीं बल्कि हमला करार दिया है।

  • लेबनान कैबिनेट ने अमोनियम नाइट्रेट का भंडारण करने वाले अधिकारियों को हाउस अरेस्ट करने की मांग की
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- पहली नजर में यह भयानक हमला लगता है

बेरूत के गवर्नर मार्वां एबॉड ने बुधवार को कहा कि विस्फोट के बाद शहर के तीन लाख लोग बेघर हो गए हैं। सभी को दूसरे जगह भेजा गया है। धमाके में 3 बिलियन डॉलर (22,540 करोड़ रु.) से ज्यादा का नुकसान हुआ है। वहीं, लेबनान के रेडक्रॉस सोसाइटी के अधिकारियों के मुताबिक, बेरूत में मंगलवार देर रात हुए ब्लास्ट में मरने वालों का आंकड़ा बुधवार सुबह 100 हो गया। चार हजार से ज्यादा लोग घायल हैं। इनमें से कई की हालत गंभीर बताई गई है।

सूचना मंत्री मनाल अब्देल समाद ने कहा कि बेरूत में दो हफ्ते का इमरजेंसी लगा दिया गया है। वहीं, लेबनान कैबिनेट ने बुधवर को अमोनियम नाइट्रेट का भंडारण करने वाले अधिकारियों को हाउस अरेस्ट करने की मांग की।

लेबनान के प्रधानमंत्री ने कहा है कि शिपमेंट में 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट था। धमाका किसी भूकंप की तरह था। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 240 किलोमीटर तक धमक महसूस हुई।

यह फोटोग्राफ धमाके के ठीक बाद की है। आसमान की तरफ उठता धुएं का गुबार देखा जा सकता है। ब्लास्ट की धमका 240 किलोमीटर दूर तक सुनाई दी।

लेबनान ने क्या कहा
धमाके के बाद लेबनान में डिफेंस काउंसिल की मीटिंग हुई। इसमें राष्ट्रपति भी शामिल हुए। बाद में प्रवक्ता ने कहा- यह कैसे स्वीकार किया जा सकता है कि एक वेयरहाउस में 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट 6 साल तक रखा रहा और किसी ने एहतियाती या सुरक्षा के कदम तक नहीं उठाए। देश में दो हफ्ते के लिए इमरजेंसी लागू कर दी गई है।

पोर्ट चीफ जिम्मेदार
लेबनान के कस्टम विभाग ने घटना के लिए सीधे तौर पर पोर्ट चीफ को जिम्मेदार ठहराया। कस्टम हेड बादरी दहेर ने कहा- मेरा डिपार्टमेंट अमोनियम नाइट्रेट रखने के लिए जिम्मेदार नहीं हैं। धमाका इससे ही हुआ। इस घटना के लिए पोर्ट चीफ हसन कोरेटेम जिम्मेदार हैं। इस बारे में पोर्ट चीफ ने अब तक प्रतिक्रिया नहीं दी है।

मोदी ने दुख जताया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेरूत में हुए धमाके पर दुख जताया। बुधवार सुबह एक ट्वीट में मोदी ने कहा- बेरूत में हुए धमाके की खबर सुनकर दुखी हूं। कई लोगों ने जान गंवाई और प्रॉपर्टी का भी नुकसान हुआ। ब्लास्ट में मारे गए और घायल हुए लोगों के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं।

क्या हुआ था मंगलवार रात
राजधानी बेरूत में मंगलवार रात बड़ा धमाका हुआ। तट के पास खड़े एक जहाज में विस्फोट हुआ, जो पटाखों से भरा हुआ था। धमाका इतना भीषण था कि 10 किलोमीटर के दायरे में मौजूद घरों को नुकसान पहुंचा। धमाके से कारें तीन मंजिल तक उछल गईं। बिल्डिंग्स एक पल में धराशायी हो गईं।

पोर्ट में काफी विस्फोटक था
लेबनान के होम मिनिस्टर ने बताया कि पोर्ट में भारी मात्रा में अमोनियम नाइट्रेट था। लेबनान कस्टम से पूछा जाना चाहिए कि इतनी भारी मात्रा में पोर्ट पर अमोनियम नाइट्रेट क्या कर रहा था? वहीं, दूसरी ओर लेबनान ब्रॉडकास्टर मायाडेन ने कस्टम के निदेशक के हवाले से बताया कि करीब एक टन नाइट्रेट में विस्फोट हुआ है।

ट्रम्प ने कहा- ये हमला
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस धमाके को भयानक हमला करार दिया। कहा- ये बेहद खतरनाक किस्म का हमला नजर आ रहा है। हम इस मुश्किल वक्त में लेबनान सरकार के साथ खड़े हैं। जांच में उनकी मदद करना चाहते हैं।

लेबनान में हुए ब्लास्ट से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं…
1. बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत, 3700 से ज्यादा घायल; 3 मंजिल तक उछली कारें, 10 किमी तक असर
2. सड़कों पर बिखरे मांस के लोथड़े, मलबे का ढेर हुई इमारतें; धमाके की तीव्रता इतनी जैसे 4.5 से ज्यादा तीव्रता का भयानक भूकम्प आया हो

0





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *