Strange India All Strange Things About India and world


  • Hindi News
  • Happylife
  • Coronavirus WHO News | World Health Organization (WHO) Issued Warning About Increasing Coronavirus Disease (COVID 19) Cases Of Among Youth

4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • 24 फरवरी से लेकर 12 जुलाई के बीच युवाओं में संक्रमण की दर 4.5 से बढ़कर 15 फीसदी तक पहुंची
  • WHO के मुताबिक, युवाओं में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह नाइटक्लब पार्टी करना और समुद्रतटों पर घूमना

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने युवाओं में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर चेतावनी जारी की है। WHO के मुताबिक, दुनियाभर में युवाओं में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 5 महीने में 15 से 24 साल के युवाओं में संक्रमण तीन गुना बढ़ा है।

24 फरवरी से लेकर 12 जुलाई के बीच इनमें संक्रमण की दर 4.5 से बढ़कर 15 फीसदी तक पहुंच गई है। वहीं, 5 से 14 साल के उम्र वर्ग में मामले 0.8 फीसदी से बढ़कर 4.6 फीसदी हो गए हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक, ऐसे मामले तब बढ़े हैं जब टेस्टिंग का दायरा बढ़ा और स्कूल दोबारा खोले गए हैं।

5 महीने में 60 लाख मामले युवाओं से जुड़े

विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस अधानोम के मुताबिक, हम पहले भी कह चुके हैं और आगे भी यही कहेंगे कि युवा बिल्कुल सेफ नहीं हैं। युवा संक्रमित हो सकते हैं, इनकी मौत भी हो सकती है और ये दूसरों में संक्रमण भी फैला सकते हैं।

WHO के मुताबिक, युवाओं में कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह है इनका नाइटक्लब पार्टी करना और समुद्रतटों पर घूमना। इन कारणों में दुनियाभर में मामले बढ़ रहे हैं। पिछले पांच महीने में युवाओं में संक्रमण के 60 लाख मामले सामने आए हैं।

अमेरिका हीं नहीं, यूरोपीय और एशियाई देशों में भी नए मामले बढ़े
WHO के मुताबिक, युवाओं में कोरोना के नए मामले सिर्फ अमेरिकी देशों में ही नहीं सामने आ रहे हैं बल्कि यूरोपीय (स्पेन, जर्मनी, फ्रांस) और एशियाई देश जैसे जापान में भी बढ़ रहे हैं। युवाओं में बढ़ते मामलों पर जॉन हॉप्किंस हॉस्पिटल की नर्स मैनेजर नेयसा एर्नेस्ट कहती हैं युवा सोशल डिस्टेंसिंग बरतने और मास्क लगाने को लेकर बहुत गंभीर नहीं हैं।

नेयसा एर्नेस्ट के मुताबिक, ट्रैवल के दौरान कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ता है। बाहर निकलने वालों में सबसे ज्यादा युवा हैं क्योंकि यही जॉब पर जाते हैं, यही बीच और पब में जाते हैं। घर का सामान खरीदने का काम भी फिलहाल इन्हीं के पास है।

संक्रमण के बढ़ते मामले कोरोना की दूसरी लहर ला सकते हैं
विशेषज्ञों का कहना है कि जिस तरह से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं ये कोरोना की दूसरी लहर की वजह बन सकते हैं। कई देशों को ट्रैवलिंग करने पर नए नियम लागू करने की जरूरत है। वहीं, वियतनाम जैसे कुछ देश हैं जहां संक्रमण रुकने के बाद फिर ने नए मामले दिखना शुरू हुए हैं।

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *