Strange India All Strange Things About India and world


बेरूत11 घंटे पहले

धमाके के बाद हर किसी को जान बचाने की फिक्र थी। इतना खौफनाक मंजर लोगों ने पहले कभी नहीं देखा था। फोटो बेरूत की एक कॉलोनी की है। एक महिला और पुरुष भागते देखे जा सकते हैं।

  • बेरूत धमाके में 100 लोगों की मौत हो चुकी है, 60 लोगों की हालत बेहद गंभीर बताई गई है
  • अमेरिकी एक्सपर्ट्स ने इसे हमला मानने से इनकार किया, कहा- ये मानवीय गलती का नतीजा

बेरूत में मंगलवार रात हुए धमाके में अब तक 100 लोग मारे जा चुके हैं। चार हजार से ज्यादा घायल हैं। 60 लोगों की हालत बेहद गंभीर बताई गई है। करीब 240 किलोमीटर तक धरती कांप उठी। बुधवार सुबह जब धमाके के बाद के फोटोज सामने आए तो मंजर किसी जंग के बाद जैसा था। हर तरफ तबाही और बारूद की गंध। बेरूत के गर्वनर मारवन अबोद रोते हुए बोले- जैसा जापान के हिरोशिमा और नागासाकी में हुआ था, मुझे वैसा ही महसूस हुआ। जिंदगी में इतनी तबाही कभी नहीं देखी। यहां देखिए धमाके के बाद के कुछ फोटोग्राफ और वीडियो…

बेरूत में बारूद की गंध हर तरफ है। धमाके के बाद की यह फोटो घटना की भयावहता बयां करने के लिए काफी है।

यह फोटो धमाके के बाद की है। चारों तरफ अंधेरा था। बिजली सप्लाई बंद हो चुकी थी। राहतकर्मी हाथ में सर्च लाइट लेकर जीवित बचे लोगों की तलाश में जुटे थे।

ब्लास्ट के बाद एक घायल को ले जाता राहतकर्मी। चार हजार से ज्यादा लोग घायल हुए हैं।

फोटो धमाके के बाद की है। इस दौरान धुएं के साथ ही आग की लपटें उठती दिखाई दीं।

जिस शिपमेंट में धमाका हुआ, उससे कुछ दूरी पर एक इमारत से यह व्यक्ति हादसे वाली जगह को देख रहा है। इस इमारत के सभी शीशे और खिड़कियां टूट चुकी हैं।

धमाके में 78 लोगों की मौत हुई और चार हजार से ज्यादा घायल हुए। हादसे के बाद अस्पताल में अफरातफरी दिखी। कई घायलों को वक्त पर इलाज नहीं मिल पाया।

बेरूत ने पहले गृहयुद्ध देखा। इसमें हजारों लोग मारे गए थे। अब एक मानवीय गलती ने 78 लोगों की जान ले ली। हादसे में घायल हुए एक बुजुर्ग को आप देख सकते हैं।

नीला आसमां धुएं और बारूद के गुबार से काला हो गया। हवा में अगर कुछ था तो बारूद की तीखी गंध। यहां सांस लेना तक दुश्वार हो गया था।

लेबनान में हुए ब्लास्ट से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं…

1. लेबनान के बेरूत में धमाका:2750 टन अमोनियम नाइट्रेट में ब्लास्ट, 240 किमी तक महसूस हुए झटके; 78 मौतें, 4000 घायल
2. बेरूत के तट पर खड़े जहाज में ताकतवर ब्लास्ट, 73 की मौत, 3700 से ज्यादा घायल; 3 मंजिल तक उछली कारें, 10 किमी तक असर
3. सड़कों पर बिखरे मांस के लोथड़े, मलबे का ढेर हुई इमारतें; धमाके की तीव्रता इतनी जैसे 4.5 से ज्यादा तीव्रता का भयानक भूकम्प आया हो

0





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *