Strange India All Strange Things About India and world


  • Hindi News
  • International
  • New Zealand Coronavirus | New Zealand Election Postponed Announcement By Prime Minister Jacinda Ardern; All You Need To Know

वेलिंगटन27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने रविवार को देश में आम चुनाव का समय बढ़ाने का ऐलान किया।

  • चुनाव अब 19 सितंबर के बदले 17 अक्टूबर को होंगे; 6 सितंबर को संसद भंग करने की प्रोसेस पूरी होगी
  • प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने कहा- चुनाव आयोग ने कहा कि है कि अब चुनाव की तारीख में बदलाव करने की जरूरत नहीं होगी

न्यूजीलैंड में कोरोनावायरस संक्रमण के चलते आम चुनाव की तारीख आगे बढ़ा दी गई है। प्रधानमंत्री जेंसिडा आर्डर्न ने रविवार को इसका ऐलान किया। उन्होंने कहा- बीते हफ्ते ऑकलैंड में संक्रमण के नए मामले सामने आए। चुनाव प्रचार शुरू होने से पहले कोरोनावायरस का दोबारा लौटना चिंता की बात है। मैंने चुनाव आयोग और दूसरी पार्टियों के नेताओं से चर्चा के बाद चुनाव की तारीख चार हफ्ते आगे बढ़ाने का फैसला किया है। अब चुनाव 17 अक्टूबर को होंगे। देश में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ऐसा करना जरूरी था।

न्यूजीलैंड में आम चुनाव के लिए पहले 19 सितंबर का समय तय किया गया था। 6 अगस्त को संसद भंग करने का प्रोसेस पूरा किया जाना था। लेकिन, ऐसा नहीं हो पाया था। अब यहां संसद सत्र मंगलवार से शुरू होगा और 6 सितंबर को संसद भंग किया जाएगा। देश में आम चुनाव कराने से पहले इस प्रोसेस को पूरा करना जरूरी है।

अब तारीख आगे बढ़ाने की जरूरत नहीं होगी: जेसिंडा

प्रधानमंत्री आर्डर्न ने कहा- चुनाव आयोग ने कहा कि है कि नई तारीख को सुरक्षित ढंग से चुनाव कराया जा सकेगा। अब इसकी तारीख में बदलाव करने की जरूरत नहीं होगी। मैं चाहती हूं कि चुनाव अच्छे ढंग से हो। सभी वोटर्स को पार्टियों और उनके उम्मीदवारों के बारे में सही जानकारी हासिल करने का मौका मिले। आखिरकार वोटर्स और लोकतंत्र का हित ही हमारे लिए सबसे अहम है। चुनाव आयोग इलेक्शन करवाने के लिए कई विकल्पों पर विचार कर रहा है। लेवल टू और लेवल थ्री के लॉकडाउन में वोटिंग कराने की भी योजना तैयार की जा सकती है।

विपक्षी पार्टियों ने किया फैसले का समर्थन
देश की विपक्षी पार्टियों ने चुनाव की तारीख आगे बढ़ाने के प्रधानमंत्री के फैसले का समर्थन किया है। विपक्षी नेशनल पार्टी की लीडर जुडिथ कॉलिन्स ने कहा कि एक लोकतांत्रिक चुनाव हमेशा देश के हित में होता है। हमें कोरोना महामारी की दूसरी लहर से भी निपटना है। ऐसे समय में चुनाव कराना सही होगा जब सभी पार्टियां अपनी पॉलिसी लोगों को समझा सकें और लोगों के स्वास्थ्य को भी किसी तरह का खतरा न हो। आर्डन के गठबंधन में शामिल न्यूजीलैंड फर्स्ट पार्टी के नेता और उप प्रधानमंत्री विंस्टन पीटर्स ने भी इसे सही कदम बताया है।

102 दिन बाद देश में संक्रमण के नए मामले आए थे

न्यूजीलैंड में 102 दिन बाद 11 अगस्त को पहली बार कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आए थे। एक ही परिवार के चार लोग संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद प्रधानमंत्री आर्डर्न ने ऑकलैंड में 12 दिन का लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया था। इससे पहले मार्च में यहां सख्त लॉकडाउन लागू किया गया था। अब तक देश में अब तक देश में 1622 मामले सामने आए हैं और 22 लोगों की मौत हुई हैं। न्यूजीलैंड ने 4-लेवल अलर्ट सिस्टम बनाकर महामारी को तीन महीने से ज्यादा समय तक देश में फैलने से रोके रखा था।

आप न्यूजीलैंड से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं:

102 दिन बाद पहला पॉजिटिव केस; एक परिवार के चार लोग संक्रमित; ऑकलैंड में 3 दिन लॉकडाउन

2.भारत और न्यूजीलैंड में एक ही दिन लॉकडाउन लगा, लेकिन वहां कोरोना खत्म होने पर; 15 दिनों से वहां रोज 20 से भी कम मरीज आ रहे

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *