Imran Khan Army Real Face: Pakistan Sindhi Leader Muttahida Mahaj On Qamar Javed Bajwa Over Kashmir Terrorism | पाकिस्तान के सिंधी नेता ने कहा- काबुल से कश्मीर तक मजहबी आतंकवाद फैला रहे पाकिस्तानी जनरल, विरोधियों का नरसंहार करते हैं


  • Hindi News
  • International
  • Imran Khan Army Real Face: Pakistan Sindhi Leader Muttahida Mahaj On Qamar Javed Bajwa Over Kashmir Terrorism

फ्रेंकफर्टएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

शफी बरफात जिए सिंध मुत्तहिदा महाज के चेयरमैन हैं। कई देशों में लेक्चर देने जाते हैं। उन्होंने दुनिया के सभी बड़े नेताओं, यूएन और मानवाधिकार संगठनों को चिट्ठी लिखकर पाकिस्तानी फौज की करतूतों के बारे में बताया है। (फाइल)

  • पाकिस्तान की सेना पर यह गंभीर आरोप सिंध प्रांत के नेता शफी बरफात ने लगाए
  • शफी जिए सिंध मुत्तहिदा महाज के नेता हैं और फिलहाल जर्मनी में रहते हैं

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के नेता शफी बरफात ने वहां की सेना पर गंभीर आरोप लगाए। शफी के मुताबिक, पाकिस्तानी फौज के जनरल काबुल से कश्मीर तक मजहबी कट्टरता और आतंकवाद फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर इन जनरलों या फौज का विरोध किया जाता है तो वे नरसंहार करने से भी बाज नहीं आते।  शफी जिए सिंध मुत्तहिदा महाज (जेएसएमएम) के चेयरमैन हैं। फिलहाल, वे जर्मनी में रहते हैं। शफी दुनिया के कई देशों में जाकर लेक्चर देते हैं। 

1947 से जारी है यह सिलसिला
शफी ने दुनिया के कई देशों के नेताओं और ह्यूमन राइट्स ऑर्गनाइजेशन्स को लेटर लिखा है। इसमें बताया कि पाकिस्तानी फौज के जनरल किस तरह 1947 से ही काबुल से लेकर कश्मीर तक मजहबी दहशतगर्दी फैला रहे हैं। 

वहशी बर्ताव करती है पाकिस्तानी फौज
शफी ने कहा- पाकिस्तानी फौज और उसके जनरल वहशी और बर्बर बर्ताव करते हैं। लोगों को गायब किया जाता है, कत्ल किया जाता है और गायब कर दिया जाता है। गोलियों से छलनी करने के बाद लाशों को दबा दिया जाता है। सिंध के अलावा खैबर पख्तूनख्वा और बलूचिस्तान में कई साल से यही हो रहा है। वहां लोगों को जुल्म के खिलाफ आवाज उठाने की कीमत जान देकर चुकानी पड़ती है। 

फौज पर पंजाब का दबदबा
पाकिस्तान के हर हिस्से में फौज का दबदबा है। सरकार यहां कुछ नहीं। पंजाब प्रांत के लोग अहम पदों पर हैं, फौज में 80 फीसदी से ज्यादा लोग पंजाब प्रांत से ही हैं। सिंध, बलूचिस्तान और पश्तून के लोगों को यहां जगह नहीं दी जाती। शफी ने कहा- मैं यूएन, अमेरिका, यूरोप, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से गुजारिश करता हूं कि वे हमारी हिफाजत करें। लेटर में शफी ने उन तमाम नेताओं के नाम गिनाए हैं जिन्हें फौज या आईएसआई ने अगवा किया और आज तक उनका कोई पता नहीं है। 

कश्मीर में पाकिस्तानी हाथ
शफी ने लेटर में साफ-साफ लिखा- कश्मीर में जो कुछ हो रहा है, उसके पीछे पाकिस्तान की सरकार और फौज का हाथ है। मेरे पास इस बात के सबूत हैं कि पाकिस्तान काबुल से लेकर कश्मीर तक मजहबी आतंकवाद फैलाने के लिए हथियार बांट रहा है। सिंध और बलूचिस्तान के कई अहम इलाके उसने चीन के हवाले कर दिए हैं। सीपैक सिर्फ बहाना है। पाकिस्तान यहां चीन की फौज की मदद से नरसंहार कर रहा है। 

पाकिस्तान से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं…
1. यूएन ने तालिबान सरगना नूर वली को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया; पाकिस्तानी फौज का करीबी है यह आतंकी
2. अब बलूचिस्तान में पाकिस्तान की सेना पर हमला, 8 सैनिक मारे गए, कई घायल; पिछले हफ्ते नॉर्थ वजीरिस्तान में 4 फौजी मारे गए थे

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram