दैनिक भास्कर

Jul 03, 2020, 06:19 AM IST

नई दिल्ली. ऊंचाई से लिया गया अयोध्या का यह विहंगम नजारा है। पहाड़ों पर अच्छी बारिश से सरयू नदी में इन दिनों भरपूर पानी है। भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या नई करवट लेने वाली है। भव्य राम मंदिर का निर्माण सावन मास में ही शुरू हो जाए, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को न्योता भेजा गया है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास और महामंत्री चंपत राय ने पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वे सावन मास में अयोध्या आकर नींव रखें। दौरा संभव न हो तो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से भूमिपूजन कर सकते हैं। 

किसानों ने थाली बजाकर टिडि्डयों को भगाया

टिड्‌डी दल ने गुरुवार को तीसरी बार हरियाणा में हमला किया। राजस्थान की ओर से नारनौल में 2, भिवानी व सिरसा में एक-एक दल घुस आया। किसानों व ग्रामीणों ने बड़ी सतर्कता दिखाते हुए थाली बजाकर, आवाज कर और ट्रैक्टर चलाकर टिडि्डयों को फसलों पर बैठने से रोका। कुछ खेतों में टिड्‌डी बैठने से नुकसान भी हुआ है। हालांकि, शाम तक टिड्‌डी दल वापस राजस्थान की ओर चला गया। फोटो में नारनौल के निजामपुर क्षेत्र में परात बजाकर टिड्डी दल को खेत से भगातीं महिलाएं।

194 नए वाहन सुधारेंगे रेस्पॉन्स टाइम

 गश्त को बेहतर बनाने तथा क्विक रेस्पॉन्स के लिए जयपुर पुलिस को 194 नए वाहन मिल गए हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 70 चेतक वाहनों तथा 124 सिग्मा मोटरसाइकिलों को गुरुवार को मुख्यमंत्री निवास से रवाना किया। मुख्यमंत्री ने कहा- सरकार कानून-व्यवस्था को और मजबूत बनाने के लिए संकल्पित है। इन सभी वाहनों में लोकेशन ट्रेस करने के लिए जीपीएस सिस्टम, घटना स्थल की वीडियोग्राफी के लिए कैमरा एवं एड्रेस सिस्टम सहित अन्य आधुनिक उपकरण लगे हुए हैं।

4 मालगाड़ियों को जोड़कर 236 वैगन के साथ पहली बार दौड़ी सुपर पायथन

रेलवे के नागपुर मंडल ने माल परिवहन के क्षेत्र में गुरुवार को नया आयाम गढ़ा है। जिले के परमालकसा स्टेशन से दुर्ग तक सुपर पायथन मालगाड़ी दौड़ाई है। नागपुर मंडल के पीआरओ बीवीआर नायडू ने दावा किया है कि ये पहला मौका है जब देश में इतनी लंबी मालगाड़ी से माल परिवहन कराया गया है। पीआरओ नायडू ने बताया कि सुपर पायथन ने परमालकसा से दुर्ग स्टेशन तक के 22 किमी. की दूरी को महज 45 मिनट में तय किया है। गाड़ी की कुल लंबाई 2.8 किमी थी।

ताकि हम और आप सुरक्षा कवच लगाना न भूलें

देश भर में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में सरकारें मास्क पहनना अनिवार्य कर रही हैं फिर भी लोग इसे पहनना भूल जाते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए मेघा फाउंडेशन ने एक अनूठा तरीका निकाला। उन्होंने बीकानेर म्यूजियम सर्किल पर शहीद कैप्टन चंद्र चौधरी की प्रतिमा पर मास्क पहना दिया।

बच्चों का झुंड नदी में नहाने उतर गया

इन दिनों पंचकूला की घग्गर नदी में धारा 144 लागू है, लेकिन इन सब बातों से बेपरवाह होकर बच्चों का झुंड नदी में नहाने उतर गया। वहीं, पुलिस और जिला प्रशासन की ओर से नदी के आसपास मात्र धारा लगाकर अपने काम से इतिश्री कर ली जाती है।

पक्षी
रेसीडेंसी कोठी में पहली बार दिखा सुनहरा कठफोड़वा
पेड़ पर सीधी चढ़ाई करता है, चोंच से कर देता है छेद
दुर्लभ प्रजाति का है ब्लैक रम्प्ड फ्लेमबैक पक्षी

इंदौर के रेसीडेंसी कोठी में पहली बार दुर्लभ प्रजाति का ब्लैक-रम्प्ड फ्लेमबैक (डिनोपियम बेंघालेंस) पक्षी दिखाई दिया। इसे सुनहरा कठफोड़वा के रूप में भी जाना जाता है। यह शहर में कई साल बाद नजर आया। यह पक्षी हमारे देश में मुख्य रूप से हिमालय के दक्षिण और पूर्व में पश्चिमी असम घाटी और मेघालय तक बड़ी संख्या में पाया जाता है। यह जंगल और खेत में रहता है। यह पक्षी पेड़ में चोंच मारकर छेद कर देता है।यह पेड़ के अंदर की वनस्पतियों को खाता है। इसके पंजे काफी कमजोर होते हैं। इसलिए यह टहनी पर नहीं बैठ पाता। पेड़ पर सीधी चढ़ाई करता है। यह अकसर जोड़े में देखा जाता है।

झालाना लेपर्ड रिजर्व : एक ‘घाट’ पर बघेरा व नीलगाय 

हर कंठ सूखा है और तपते-झुलसते दिन के साथ रात भी उमस भरी है। पानी पीने के साथ ही पसीना बनकर बह रहा है, प्यास है कि बुझती ही नहीं। इंसान तो इंसान, मूक जीवों का भी बुरा हाल। इस तड़प ने मौत के दूसरे डर को भी मानो छका दिया। जो किस्से केवल कहानियों में सुनते थे, वो आंखें देख रही है। दृश्य जयपुर के झालाना लेपर्ड रिजर्व का है, जहां खूंखार शिकारी और शिकार के बीच के डर को प्यास ने हरा दिया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *