लांस नायक सलीम खान की फाइल फोटो, जो बीते दिन लेह में सेना के एक ऑपरेशन के दौरान हादसे का शिकार हो गए।


  • जिले के गांव मर्दांहेड़ी में 1996 में पैदा हुए सलीम खान 2014 में सेना की 58वीं इंजीनियर रेजिमेंट में भर्ती हुए थे
  • पिता मंगलदीन भी फौज में थे, जो एक हादसे में घायल होने के बाद रिटायर हो गए थे, 2002 में हो चुका निधन

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 03:33 PM IST

पटियाला. लेह में बीते दिन पटियाला के एक फौजी बेटे की जान चली गई। बताया जा रहा है कि सेना की तरफ से श्योंक नदी में ऑपरेशन के दौरान मदद के लिए रस्से डाले जा रहे थे। अचानक किश्ती पलट गई और इसमें सवार हो काम कर रहे जिले के सलीम खान नदी में डूब गए। लांस नायक सलीम खान का पार्थिव शरीर आज उनके पैतृक गांव में लाया जाएगा। वहीं, सलीम खान शहादत की खबर जैसे ही उनके घर पर पहुंची माहौल गमगीन हो गया। मां नसीमा बेगम का रो-रोकर बुरा हाल है।

सलीम खान का जन्म 14 जनवरी 1996 को पटियाला जिले के गांव मर्दांहेडी में पिता मंगलदीन और माता नसीमा बेगम के घर हुआ था। परिवार में एक बहन सुल्ताना और एक बड़ा भाई नियामत अली हैं। सलीम खान के पिता मंगलदीन भी फौजी थे, जो एक हादसे में घायल हो जाने के बाद रिटायर हो गए थे। बाद में 2002 में उनका निधन हो गया। सलीम खान फरवरी 2014 में भारतीय सेना की सेना की 58वीं बंगाल इंजीनियरिंग रेजिमेंट में शामिल हुए थे। इन दिनों लेह में तैनात थे।
मिली जानकारी के अनुसार सेना के आगामी ऑपरेशन में मदद के लिए शुक्रवार को श्योंक नदी में रस्से डाले जा रहे थे। दोपहर करीब डेढ़ बजे अचानक दुर्घटना के कारण सलीम खान की नाव पलट गई। 3 बजकर 20 मिनट पर सलीम खान को नदी से निकाला गया तो उनकी सांसें थम चुकी थीं। लांस नायक सलीम खान का पार्थिव शरीर आज उनके पैतृक गांव में लाया जाएगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram