फ्रांस में एक दिन में 10 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, न्यूजीलैंड में कोई नया केस नहीं; दुनिया में 3.12 करोड़ केस


  • Hindi News
  • International
  • Coronavirus Novel Corona Covid 19 21 Sept | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19

वॉशिंगटन17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पेरिस के एक कोरोना टेस्टिंग सेंटर के बाहर मौजूद लोग। फ्रांस में लगातार दूसरे दिन 10 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए। सरकार आज कुछ सख्त प्रतिबंधों की घोषणा कर सकती है।

  • दुनिया में 9.64 लाख से ज्यादा लोगों की मौत, 2.28 करोड़ से ज्यादा लोग अब स्वस्थ
  • अमेरिका में 70.04 लाख लोग संक्रमित, 2.28 लाख से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं

दुनिया में संक्रमितों का आंकड़ा 3.12 करोड़ से ज्यादा हो गया है। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 2 करोड़ 28 लाख 17 हजार 541 से ज्यादा हो चुकी है। वहीं, अब तक 9 लाख 64 हजार 764 मौतें हो चुकी हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर सरकार के लिए भारी पड़ रही है। यहां रविवार को 10 हजार से ज्यादा मामले सामने आए।

फ्रांस : हेल्थ मिनिस्ट्री का बयान
फ्रांस की हेल्थ मिनिस्ट्री ने रविवार रात जारी बयान में कहा- देश में पिछले 24 घंटे में 10 हजार 569 नए मामले सामने आए। इसके एक दिन पहले यानी शनिवार को 13 हजार 498 मामले सामने आए थे। यह साफ तौर पर संक्रमण की दूसरी लहर है और सरकार इसको लेकर सख्त कदम उठाने की तैयारी कर रही है। रविवार को 12 और लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई। फ्रांस में 31 हजार 585 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। दूसरी ओर, संभावित लॉकडाउन जैसे कदमों का विरोध भी शुरू हो गया है।

न्यूजीलैंड : कोई नया केस नहीं
सोमवार को जारी बयान के मुताबिक, न्यूजीलैंड में रविवार को कोई नया केस सामने नहीं आया। ऑकलैंड में खासतौर पर प्रतिबंधों को लेकर सर्तकता बरती जा रही है। इसकी एक वजह यह है कि यहां अब भी कई टूरिस्ट ऐसे हैं, जिन्हें सेहत संबंधी दिक्कतें हैं। कुछ शहरों में प्रतिबंध जारी रखे जाएंगे। प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली हैं। इसमें सरकार द्वारा उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी दी जाएगी। न्यूजीलैंड में 1464 मामले सामने आ चुके हैं और 25 लोगों की मौत हो चुकी है। तीन संक्रमितों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

फोटो 11 सितंबर की है। तब न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने संक्रमण से जुड़े मामलों की जानकारी के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। आज वे फिर इसी मामले पर मीडिया से बातचीत करने वाली हैं।

फोटो 11 सितंबर की है। तब न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने संक्रमण से जुड़े मामलों की जानकारी के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। आज वे फिर इसी मामले पर मीडिया से बातचीत करने वाली हैं।

चीन : 12 नए मामले
चीन में एक बार फिर 12 नए मामले सामने आए। एक दिन पहले भी यहां 12 केस मिले थे। नेशनल हेल्थ अथॉरिटी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि सभी मामले उन लोगों के हैं जो दूसरे देशों से चीन पहुंचे। 25 ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं मिले। चीन की हेल्थ मिनिस्ट्री ने शनिवार को जारी बयान में कहा था कि विदेश से आने वाले लोगों की टेस्टिंग को लेकर नई गाइडलाइन जारी की जाएगी। इसकी वजह यह है कि ज्यादातर मामले इन्हीं पैसेंजर्स की वजह से सामने आ रहे हैं और इनके लोकल लेवल पर लोगों का संपर्क नई परेशानी खड़ी कर सकता है।

चीन सरकार जल्द ही दूसरे देशों से आने वाले लोगों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर सकती है। यहां कुछ शहरों के बाजारों में अब भी ग्राहक नजर नहीं आ रहे हैं। (फाइल)

चीन सरकार जल्द ही दूसरे देशों से आने वाले लोगों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर सकती है। यहां कुछ शहरों के बाजारों में अब भी ग्राहक नजर नहीं आ रहे हैं। (फाइल)

ब्रिटेन में विरोध के बावजूद सख्ती
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शनिवार से देश में कोरोना से जुड़ी नई पाबंदियों का ऐलान किया था। देश में संक्रमण की दूसरी लहर शुरू हो चुकी है। लोग सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन्स नहीं मान रहे हैं। अब पाबंदियां सख्त की गई हैं। पॉजिटिव आने के बावजूद सेल्फ आइसोलेशन में नहीं जाने वाले लोगों पर 13 हजार डॉलर (करीब 9.56 लाख रु.) का जुर्माना लगाया जाएगा। ब्रिटेन में अब तक 3 लाख 90 हजार 358 लोग संक्रमित मिले हैं। खास बात ये है कि बिगड़ते हालात के बावजूद सरकार के प्रतिबंधों का विरोध कर रहे हैं। प्रदर्शन हो रहे हैं। 30 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है।

लंदन की कुछ सड़कों पर सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर स्लोगन लिखे गए हैं। ब्रिटेन में संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने साफ कर दिया है कि कुछ और सख्त प्रतिबंध लगाए जाते हैं।

लंदन की कुछ सड़कों पर सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर स्लोगन लिखे गए हैं। ब्रिटेन में संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने साफ कर दिया है कि कुछ और सख्त प्रतिबंध लगाए जाते हैं।

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram