पाकिस्तान में एक साल में दूसरे हिंदू डॉक्टर की हत्या; पिछले साल महिला डॉक्टर का रेप के बाद कत्ल किया गया था


  • Hindi News
  • International
  • Hindu Doctor In Pakistan | Hindu Doctor Lal Chand Bagari Murdered In Pakistans Sindh Province.

कराची9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू समुदाय के डॉक्टर की हत्या कर दी गई। घटना के बाद हमलावर फरार हो गए। (प्रतीकात्मक चित्र)

  • हिंदू डॉक्टर का नाम लाल चंद बागरी है, वे सिंध प्रांत के तांदो अल्यहार में प्रैक्टिस करते थे
  • पिछले साल 16 सितंबर को लरकाना के कॉलेज होस्टल में डॉक्टर नम्रता चंदानी का शव मिला था

पाकिस्तान में एक और हिंदू डॉक्टर का बेरहमी से कत्ल कर दिया गया। डॉक्टर का नाम लाल चंद बागरी बताया गया है। बागरी सिंध प्रांत के तांदो अल्यहार में प्रैक्टिस करते थे। सोमवार रात कुछ अज्ञात लोग उनके घर में घुसे और चाकू से उनका गला रेत दिया। शरीर पर चाकू के कुछ और जख्म मिले हैं।

एक साल में किसी हिंदू डॉक्टर की पाकिस्तान में यह दूसरी हत्या है। पिछले साल कराची के करीब लरकाना के गर्ल्स होस्टल में डॉक्टर नम्रता चंदानी का शव मिला था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से साफ हो गया था कि नम्रता की रेप के बाद हत्या की गई है।

पड़ोसियों ने दी पुलिस को जानकारी
तांदो अल्यहार सिंध प्रॉविंस का एक कस्बा है। यहां ज्यादातर सिंधी समुदाय के लोग रहते हैं। लाल चंद भी सिंधु समुदाय से आते थे। उनका क्लीनिक घर में ही था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोमवार शाम कुछ लोग उनके घर में घुसे। उन्होंने डॉक्टर बागरी पर चाकू से कई वार किए। कुछ पड़ोसियों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस कार्रवाई के बारे में फिलहाल जानकारी नहीं मिल सकी है। घटना के बाद आरोपी फरार हो गए। बागरी का बेरहमी से गला भी रेत दिया गया था।

नम्रता के कातिलों को नहीं मिली सजा
पिछले साल 16 सितंबर को लरकाना के मेडिकल कॉलेज हॉस्टल में डॉक्टर नम्रता चांदनी का शव मिला था। वे बेनजीर भुट्टो के परिवार द्वारा संचालित बीबी आसिफा मेडिकल कॉलेज की स्टूडेंट थीं। नम्रता के भाई विशाल कराची के बड़े सर्जन माने जाते हैं। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से साफ हो गया था कि नम्रता की हत्या के पहले उनके साथ रेप हुआ था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने नम्रता को इंसाफ दिलाने की मांग की थी।

0





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram