एक्सपर्ट्स के मुताबिक- बाहर रहना सुरक्षित है, लेकिन यह जरूरी है कि आप किस तरह का संपर्क रख रहे हैं। 


  • एक्सपर्ट्स का दावा, खुली जगह में हवा बूंदों को हटाती है और सूरज की रोशनी वायरस को खत्म करता है
  • अगर आपके इलाके में कोरोनावायरस पॉजिटिविटी रेट 5 प्रतिशत से कम है तो सोशल गेदरिंग सुरक्षित है

दैनिक भास्कर

Jul 07, 2020, 01:55 PM IST

तारा पार्कर पोप. कोरोनावायरस के केस लगातार बढ़ रहे हैं। सरकार लोगों से लगातार सावधानी बरतने की अपील कर रही है। अमेरिका में बढ़ रहे कोरोना के मामलों का कारण घर के बाहर होने वाले समारोह को माना जा रहा है। हालांकि एक्सपर्ट्स के मुताबिक, विज्ञान बदला नहीं है, आपके कोरोनावायरस की चपेट में आने का जोखिम बाहर के मुकाबले घर में ज्यादा है। अगर आप अपने दोस्तों के साथ वक्त बिताना चाहते हैं तो बाहर पार्टी करना कोविड 19 के जोखिम को कम करता है।

कॉम्पेयरेटिव इम्युनोलॉजिस्ट और यूनिवर्सिटी ऑफ मैसाचुसेट्स में बायोलॉजी प्रोफेसर एरिन ब्रोमेज कहते हैं कहते हैं कि बाहर रहना सुरक्षित है, लेकिन यह जरूरी है कि आप बाहर किस तरह का संपर्क रख रहे हैं। 

  • स्टडी के मुताबिक-

बाहर के मुकाबले घर के अंदर ज्यादा जोखिम
कोरोनावायरस के 100 मामलों को लेकर हुई एक जापानी स्टडी बताती है कि बाहर की तुलना में घर के अंदर कोरोनावायरस की चपेट में आने का जोखिम 20 गुना ज्यादा होता है। बाहर होने वाले कार्यक्रमों में जोखिम इसलिए कम होता है, क्योंकि हवा बूंदों को हटा देती है और सूरज की रोशनी वायरस को मार सकती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ लीसेस्टर में वायरोलॉजिस्ट डॉक्टर जूलियन डब्ल्यु तांग कहते हैं कि खुली जगहें वायरस को बनने और सांस के जरिए अंदर जाने से रोकती हैं। जबकि यह बंद जगह पर मुमकिन है, जहां संक्रमित लोग सांस लेते हैं। 

गेस्ट लिस्ट, कोरोना मामलों के दर का रखें ध्यान
अगर आप बाहर इकट्ठे हो रहे हैं तो यह याद रखें कि मेहमानों की लिस्ट छोटी हो। यह पक्का कर लें कि आपके इलाके में कोविड 19 की दर कम हो और गिर रही हो। अगर पॉजिटिविटी रेट 5 फीसदी है तो इकट्ठे होना सुरक्षित है। 

घर के अंदर संक्रमित होने वाले मामले

  • हाल ही में सामने आए मामलों के तार घर में हुए कार्यक्रम से जुड़े हैं, जहां लोगों ने नियम तोड़े थे। एक अनुमान के बाद रॉकलैंड काउंटी न्यूयॉर्क में हुए एक पार्टी में 100 लोग शामिल हुए थे, जिसमें 9 लोग संक्रमित थे।
  • वॉशिंगटन डीसी में जून 18 को हुए एक फंड रेजर कार्यक्रम में करीब 2 दर्जन लोग शामिल हुए थे। बाद में इस कार्यक्रम के होस्ट और कुछ मेहमान कोविड 19 से ग्रस्त पाए गए थे। 30 मई को टेक्सास में हुई एक सरप्राइज पार्टी में परिवार के 18 सदस्य संक्रमित हो गए थे।
  • इंफेक्शियस डिसीज एपिडेमियोलॉजिस्ट और हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के डिपार्टमेंट ऑफ पॉपुलेशन मेडिसिन में असिस्टेंट प्रोफेसर जूलिया मार्कस के मुताबिक, बाहर रहना ही हमें बचाएगा। यह मैसेज क्यों नहीं हो सकता कि हम जानते हैं कि आप दोस्तों से मिलना चाहते हैं। इसे सुरक्षित तरीके से भी किया जा सकता है। हम केवल उनसे इकट्ठा नहीं होने के लिए कह रहे हैं। 

बाहर मिल रहे हैं तो मास्क जरूर पहनें

  • चीन में हुए 7000 मामलों की समीक्षा में एक ही मामला सामने आया था, जहां संक्रमण बाहर रहने के कारण फैला था। हालांकि यह दो दोस्तों के बीच हुई लंबी बातचीत का परिणाम था। दोनों में से एक दोस्त चीन के वुहान से लौटा था।
  • अगर आप किसी कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं और किसी से नजदीक जाकर बातचीत कर रहे हैं तो मास्क जरूर पहनें। इस दौरान म्यूजिक को भी कम रखें, ताकि लोगों को तेज आवाज में बात न करनी पड़े। बर्तन और खाना शेयर न करें। 
  • वर्जीनिया टेक में एयरोसोल साइंटिस्ट और इंजीनियर प्रोफेसर लिंसे मार कहती हैं कि मुझे लगता है कि लोगों ने सुना है यह बाहर है और वे सोचते हैं कि सब ठीक है, लेकिन बाहर भी सोशल डिस्टेंसिंग होनी चाहिए। अगर आप बाहर हो रहे किसी कार्यक्रम में हैं, जहां काफी लोग आपके नजदीक बात कर रहे हैं तो काफी शोर होगा और आप तेज आवाज में बात करोगे।

पार्टी में कम लोगों का होना फायदेमंद

  • हार्वर्ड टीएच चेन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ और ब्रिघम एंड वुमन्स हॉस्पिटल में एड्रियाड्ने लैब्स में एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉक्टर असर बिटन के मुताबिक, पार्टी में कम लोगों के शामिल होना न केवल संक्रमण के जोखिम को कम करता है, बल्कि फिजिकल डिस्टेंस और ट्रैक करने में भी आसानी होती है। 
  • डॉक्टर बिटन ने नोट किया कि जब ग्रुप बड़ा हो जाता है तो यह हमारी जागरूकता को प्रभावित कर सकता है। इसके बाद शराब हमारी दूरी को कम कर देती है। यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा के सेंटर फॉर इंफेक्शियस डिसीज रिसर्च एंड पॉलिसी डायरेक्टर डॉक्टर माइकल ऑस्टरहोम इस बात पर सहमति जताते हैं कि लोगों को फिजिकल डिस्टेंस पर शराब के असर के बारे में जागरूक होना चाहिए।
  • डॉक्टर तांग के अनुसार, भले ही बाहर इकट्ठे होना सुरक्षित है पर लोगों को जागरूक और चौकन्ने रहना चाहिए। जबकि अनजान लोगों से दूरी बनाना आसान होता है, लेकिन जिन लोगों को आप जानते हो उनसे 6 फीट की दूरी बनाना मुश्किल होता है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram