कोरोना को हराकर लौटी 65 साल की मां को बेटे और बहू ने घर में रखने से इनकार किया, घर पर ताला लगाकर घूमने चले गए


  • Hindi News
  • National
  • The 65 year old Mother, Who Returned After Defeating Corona, Refused To Keep Her Son And Daughter in law In The House, Went To Lock The House

हैदराबाद7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बुजुर्ग महिला को सालभर पहले भी बेटे और बहू ने ओल्ड एज होम में छोड़ दिया था। इस बार भी बीमारी से उबरने के बाद घर के बाहर छोड़ दिया। (प्रतीकात्मक फोटो)

  • तेलंगाना के निजामबाद की घटना, पति के छोड़ने के बाद बेटे और बहू पर आश्रित थी बूढ़ी मां
  • तीन दिन तक पड़ोस के लोगों ने दिया खाना, बेटे-बहू की पुलिस ने काउंसलिंग की

जिस मां ने बेटे को चलना सिखाया। अपना दूध पिलाया। वही मां जब बूढ़ी हो गई तो बेटे और बहू ने उसे घर में रखने से इनकार कर दिया। वह भी तब जब मां कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से लड़कर वापस आई। रिश्तों को शर्मसार करने वाली यह घटना तेलंगाना के निजामाबाद की है।

पुलिस के मुताबिक, यहां एक 65 साल की बुजुर्ग महिला को कुछ दिन पहले कोरोना हो गया था। सरकारी हॉस्पिटल में इलाज चला। महिला ने बीमारी को हरा दिया। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद महिला वापस अपने घर पहुंची तो बेटे ने उसे रखने से इनकार कर दिया।

पुलिस ने समझाया तब जाकर बहू-बेटे मां को रखने को तैयार हुए

बेटे और बहू ने अपनी मां को बाहर छोड़कर घर पर ताला लगा दिया और हैदराबाद घूमने चले गए। तीन दिनों तक घर के बाहर ही बुजुर्ग महिला पड़ी रही। आस-पास के लोगों ने खाने-पीने को दिया। सूचना पुलिस को मिली तो पुलिस ने महिला के बेटे और बहू को बुलाकर उनकी काउंसलिंग की। तब जाकर वह मां को साथ रखने के लिए तैयार हुए।

सालभर पहले ओल्ड एज होम में छोड़ दिया था
पुलिस के मुताबिक, साल भर पहले ही बेटे और बहू ने अपनी मां को एक ओल्ड ऐज होम में छोड़ दिया था। यहां रहने के लिए टेम्परेरी सुविधा थी। ओल्ड एज होम में रहने वाली सभी बुजुर्ग महिलाओं की कोरोना जांच हुई। इसमें तीन बुजुर्ग महिलाएं संक्रमित मिलीं। कोरोना से ठीक होने के बाद महिला वापस अपने घर गई थी।

तेलंगाना में 1.72 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित
तेलंगाना में अब तक 1 लाख 72 हजार 608 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें 1 लाख 41 हजार 930 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 29 हजार 636 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते अब तक 1,042 मरीजों की मौत हो चुकी है। राज्य सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मरने वाले सबसे ज्यादा बुजुर्ग हैं।

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram