13 घंटे पहलेलेखक: निसर्ग दीक्षित

  • कॉपी लिंक
  • 2019 में आई एक रिपोर्ट बताती है कि भारत में टैटू इंडस्ट्री 20 हजार करोड़ रुपए की है
  • पहली बार टैटू बनवाने जा रहे हैं तो बगैर खाना खाए न जाएं, छोटी डिजाइन से करें शुरुआत

युवाओं में टैटू का क्रेज हमेशा से ही रहा है। आपने कई बार लोगों के हाथों, गर्दन या पूरे शरीर पर टैटू देखे होंगे, लेकिन क्या आप जानते हैं कि शौक या परंपरा के चलते बनाई गई ये डिजाइन की स्याही कैंसर का पता लगाने में भी मददगार हो सकती है। ऐसा कहना है हाल ही में आई एक रिसर्च का।

स्टडी बताती है कि टैटू की इंक और खाने में इस्तेमाल होने वाली डाई कैंसर के पता करने के तरीके को बेहतर बना सकती हैं। 2018 में टैटू को लेकर 18 देशों पर की गई स्टेटिस्टा की रिसर्च बताती है कि 38% लोगों ने अपने शरीर पर कम से कम एक टैटू बनाया था।

आइए जानते हैं कैसे टैटू इंक बताएगी कैंसर के बारे में

  • यूएससी वटर्बी डिपार्टमेंट ऑफ बायोमेडिकल इंजीनियरिंग की नई रिसर्च के मुताबिक, टैटू आर्टिस्ट की सुई कैंसर का पता लगाने में बड़ा हथियार साबित हो सकती है। असिस्टेंट प्रोफेसर क्रिस्टीना जैवलेटा और उनकी टीम ने टैटू की इंक और खाने की डाई जैसी आम डाई की मदद से नए इमेजिंग कन्ट्रास्ट एजेंट्स विकसित किए हैं।
  • जब यह डाई नैनो पार्टिकल्स से जुडेंगी तो यह कैंसर के सेल्स को उजागर कर सकेंगी। इससे डॉक्टर्स को कैंसर सेल और दूसरे आम सेल्स के बीच फर्क करने में आसानी होगी। यह स्टडी साइंटिफिक जर्नल बायो मटेरियल्स साइंस में प्रकाशित हुई थी। मरीजों के लिए शुरुआती दौर में ही कैंसर का पता लगाना बहुत जरूरी है।

अगर आप भी टैटू बनाने की चाहत रखते हैं तो पहले पढ़ लें कुछ सावधानियां

  • बिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट बताती है कि भारत में टैटू इंडस्ट्री काफी तेजी से बढ़ रही है। इस इंडस्ट्री से हर साल अनुमानित 20 हजार करोड़ रुपए का कारोबार करती है। हालांकि, भारत में टैटू बनाने का क्रेज तो है, लेकिन बहुत ही कम लोग होते हैं जो सावधानियों का भी ख्याल रखते हैं।
  • भोपाल के टैटू आर्टिस्ट आकाश चंदानी कहते हैं “लोग पहले कीमत को लेकर ज्यादा चिंतित रहते हैं और इसकी वजह से उन्हें यह शौक और महंगा पड़ जाता है।” आकाश ने कहा कि पहले किसी भी आर्टिस्ट के काम के बारे में जानें। हमें कुछ सावधानियों के साथ टैटू प्लानिंग करनी चाहिए। आकाश बता रहे हैं कैसे करें टैटू प्लानिंग और क्या सावधानी रखें…

टैटू प्लानिंग कैसे करें

  1. स्टूडियो और आर्टिस्ट के बारे में जानकारी: अगर आप टैटू के बारे में सोच रहे हैं तो सबसे पहली और जरूरी चीज है, आर्टिस्ट और स्टूडियो के बारे में जानकारी। सोशल मीडिया या कॉन्टैक्ट की मदद से पहले पूरी जानकारी लें।
  2. सफाई: स्टूडियो में जाने के बाद वहां की सफाई पर जरूर गौर करें। देखें कि स्टूडियो का स्टाफ किस तरह से काम कर रहा है।
  3. डिजाइन पर फोकस: आप जो भी डिजाइन का टैटू बनवाना चाहते हैं, उसके बारे में आर्टिस्ट से ठीक तरह से बात कर लें। यह पक्का कर लें कि वो आपकी बात को समझ पा रहा है या नहीं। आर्टिस्ट की योग्यता को जानने की कोशिश करें। देखें कि वो कहीं आपको केवल इंटरनेट की फोटो तो नहीं दिखा रहे।
  4. खाना खाकर जाएं: अगर आपने टैटू का पूरा मन बना लिया है, तो स्टूडियो जाने से पहले खाना जरूर खा लें। एक्सपर्ट्स खाना खाकर आने की सलाह देते हैं।
  5. छोटे टैटू से शुरुआत करें: अगर आप पहली बार टैटू बनवाने जा रहे हैं तो साइज का खास ध्यान रखें। शुरुआत बड़े टैटू के बजाए छोटी डिजाइन से करें। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, बड़ा टैटू बनाने में वक्त लगता है। ऐसे में डिजाइन करते वक्त अगर आप बीच में ही छोड़ देते हैं तो यह आपके और आर्टिस्ट दोनों के लिए परेशानी खड़ी कर देता है।

टैटू बनाने के दौरान भी रखें सावधानियां

  • सुई की जांच जरूरी है: जब भी टैटू कराने जाएं तो देखें कि आर्टिस्ट सही ग्लव्ज, सुई जैसी दूसरी चीजों का इस्तेमाल कर रहा है या नहीं। आमतौर पर हर आर्टिस्ट अलग-अलग क्लाइंट्स के लिए अलग सुई रखते हैं, लेकिन फिर भी सुरक्षा के लिहाज से एक बार सुई की जांच जरूर कर लें।
  • डिजाइन जांच लें: टैटू की शुरुआत करने से पहले डिजाइन की जांच करना भी बहुत जरूरी है। इसलिए शुरू करने से पहले अगर आप कोई इमेज या आर्ट बनवा रहे हैं तो पहले ध्यान से देख लें। अगर कोई शब्द लिखवा रहे हैं तो उसकी स्पेलिंग को ध्यान से पढ़ लें।

अब टैटू की केयर के बारे में जानिए
आकाश के मुताबिक, महामारी के बाद भी टैटू की केयर में कोई बदलाव नहीं आया है। टैटू बनवाने के बाद आर्टिस्ट उसे कवर कर देते हैं। टैटू बनवाने के दो घंटे बाद आप उसे ठीक तरह धो लें, लेकिन याद रखें कि रुई के इस्तेमाल के बजाए साफ टॉवेल का इस्तेमाल करें।

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *