Strange India All Strange Things About India and world


वॉशिंगटनएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कंपनी कम और मध्यम आय वाले देशों के लिए वैक्सीन का 100 करोड़ खुराक तैयार करेगी। – फाइल फोटो

  • अगस्त में अमेरिकी कंपनी नोवावैक्स और सीरम इंस्टीट्यूट के साथ डील साइन हुई थी
  • कंपनी जनवरी तक अमेरिका में 10 करोड़ खुराक देने की तैयारी कर रही है

अमेरिकी कंपनी नोवावैक्स सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ मिलकर साल में कोरोना वैक्सीन का 200 करोड़ खुराक तैयार करेगी। अगस्त में नोवावैक्स ने सीरम इंस्टीट्यूट के साथ डील साइन की थी। समझौते के मुताबिक, कम और मध्यम आय वाले देशों और भारत के लिए कम के कम 100 करोड़ खुराक का उत्पादन किया जाएगा।

कंपनी अब विस्तारित समझौते के तहत वैक्सीन के एंटी जन कंपोनेंट का भी निर्माण करेगी, जिसे NVX‑CoV2373 कहा जाता है। नोवावैक्स ने कहा कि 2021 के मध्य तक मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी बढ़ाकर 200 करोड़ खुराक से ज्यादा का उत्पादन किया जाएगा। नोवावैक्स की वैक्सीन फिलहाल मिड-स्टेज ट्रायल में है।

ब्रिटेन में 6 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगा

शुरुआती स्टेज से पता चला है कि यह कोरोनावायरस के खिलाफ हाई-लेवल एंटीबॉडीज प्रोड्यूस करता है। पिछले महीने नोवावैक्स ने कहा था कि वह ब्रिटेन में 2021 की पहली तिमाही की शुरुआत में 6 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगा।

अमेरिका और नोवावैक्स के बीच टीके के लिए 12 हजार करोड़ रु की डील

कंपनी जनवरी तक अमेरिका में 10 करोड़ खुराक देने की तैयारी कर रही है। टीका के लिए अमेरिका के साथ कंपनी की 1.6 बिलियन डॉलर (करीब 12 हजार करोड़ रु.) की डील हुई है। इसके साथ ही कनाडा और जापान के साथ भी टीके की आपूर्ति के लिए समझौते किए गए हैं।

0



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *